Ae Dil Hai Mushkil Lyrics - ऐ दिल है मुश्किल

Ae Dil hai mushkil lyrics - Ranbir, Anushka, Aishwarya, Arijit|Pritam

Lyrics of ae dil hai mushkil Song Credits 
  • Music- Pritam
  • Lyrics- Amitabh Bhattacharya
  • Singer- Arijit Singh
  • Sound Design- Dj Phukan, Sunny M.R.
  • Music Programmers- Prasad Sashte, Sunny M.R., Dj Phukan
  • Mix- Sunny M.R. & Shadab Rayeen
  • Master- Shadab Rayeen@Newedge
  • Assistant - Abhishek Sortey
  • Recording Engineer's- Ashwin Kulkarni, Himanshu Shirlekar, Kaushik Das, Lee Slater
Hindi lyrics are below

ae dil hai mushkil lyrics
ae dil hai mushkil lyrics 

Ae Dil hai mushkil Lyrics in English


Tu safar mera
Hai tu hi meri manzil
Tere bina guzara
Ae dil hai mushkil

Tu mera Khuda
Tu hi duaa mein shaamil
Tere bina guzara
Ae dil hai mushkil

Mujhe aazmaati hai teri kami
Meri har kami ko hai tu laazmi
Junoon hai mera
Banoon main tere qaabil
Tere bina guzaara
Ae Dil Hai Mushkil

Yeh rooh bhi meri
Yeh jism bhi mera
Utna mera nahi
Jitna hua tera

Tune diya hai jo
Woh dard hi sahi
Tujhse mila hai toh
Inaam hai mera

Mera aasmaan dhoondhe teri zameen
Meri har kami ko hai tu laazmi

Zameen pe na sahi
Toh aasmaan mein aa mil
Tere bina guzara
Ae dil hai mushkil

Maana ki teri maujoodgi se
Ye zindagani mehroom hai
Jeene ka koi dooja tareeka
Na mere dil ko maaloom hai

Tujhko main kitni
Shiddat se chaahun
Chaahe toh rehna tu be-khabar
Mohtaaj manzil ka toh nahi hai
Ye ek tarfa mera safar, safar
Khoobsurat hai manzil se bhi
Meri har kami ko hai tu laazmi

Adhura hoke bhi
Hai ishq mera kaamil
Tere bina guzara
Ae dil hai mushkil




Artist Collection 


Ae Dil Hai Mushkil Lyrics in Hindi

Hindi Lyrics
Arijit Singh

तू सफ़र मेरा, है तू ही मेरी मंज़िल
तेरे बिना गुज़ारा, ऐ दिल है मुश्किल

तू मेरा खुदा, तू ही दुआ में शामिल
तेरे बिना गुज़ारा, ऐ दिल है मुश्किल

मुझे आज़माती है तेरी कमी
मेरी हर कमी को है तू लाज़मी

जूनून है मेरा, बनूँ मैं तेरे काबिल
तेरे बिना गुज़ारा, ऐ दिल है मुश्किल

ये रूह भी मेरी, ये जिस्म भी मेरा
उतना मेरा नही, जितना हुआ तेरा

तूने दिया है जो, वो दर्द ही सही
तुझसे मिला है तो ईनाम है मेरा

मेरा आसमाँ ढूंढें तेरी ज़मीं
मेरी हर कमी को है तू लाज़मी

ज़मीं पे ना सही, तो आसमाँ में आ मिल
तेरे बिना गुज़ारा, ऐ दिल है मुश्किल

माना की तेरी मौजूदगी से ये ज़िंदगानी महरूम है
जीने का कोई दूजा तरीका ना मेरे दिल को मालूम है

तुझको मैं कितनी शिद्दत से चाहूँ
चाहे तो रहना तू बेख़बर
मोहताज मंज़िल का तो नही है
ये एक तरफ़ा मेरा सफ़र

सफ़र ख़ूबसूरत हैं मंज़िल से भी
मेरी हर कमी को है तू लाज़मी

अधूरा होके भी है इश्क़ मेरा कामिल
तेरे बिना गुज़ारा, ऐ दिल है मुश्किल



Post a Comment

0 Comments